DesiIndianBhabi.com chudai, story desi kahani, hot kahani, hindi hot story, hot hindi kahani, desi hindi kahani, hindi desi kahani, desi hindi story, jija sali ki kahani, desi aunty ki chudai, desi sex stories, desi arnaz, lucille ball

Tuesday, 12 September 2017

इतना लम्बा लंड कैसे जाएगा




इतना लम्बा लंड कैसे जाएगा मेरी चूत मे  हैल्लो मेरा नाम सपना है। ये मेरी कहानी उस समय की जब मे लास्ट इयर बीकॉम में थी। तब भी मेरे पिताजी के दोस्त का बेटा अजय सिंगापुर से लंबी चाहत ले कर लड़की देखने इंडिया आया था। वैसे अजय मुझसे करीब आठ साल बड़ा था अजय मुझसे शादी करना चाहता था। मैने अजय को कई सालो से देखा नही था। एक दिन वो लोग हमारे घर डिनर करने के लिये आए अजय को देखते ही में बहुत चौंकी वो आज बहुत ही चिकना और सुन्दर लगता था। हमने बहुत देर तक बाते की। रात को उनके जाने के बाद में तो अजय के बारे मे ही सोचती रही मुझे लगा की में जैसे उसके प्यार मे पड़ गई थी। सुबह जब मे सोकर उठी मुझे घरवालो ने कहा सपना तुम्हारे लिये एक गुड न्यूज़ है अजय को तुम बहुत पसंद आई हो और अब सभी चाहते थे कि मेरी अजय से शादी हो जाये और पापा ने कहा की तुम अजय को मिलो में भी यही चाहती थी।

में अंदर से खुशी से झूम गयी थी और उसी शाम को 5 बजे अजय मुझे लेने आया हम कॉफी शॉप चले गये वहाँ अजय ने कहा सपना पहली बात तुम मुझे बहुत पसंद हो लेकिन मे तुमसे आठ साल बड़ा हूँ इसमे तुम्हे कोई प्रॉब्लम तो नहीं तो हम आगे नही सोचेंगे में कभी भी तुम्हे फोर्स नही करूँगा। मैने कहा ये कोई प्राब्लम नही लेकिन मैने इतनी जल्दी शादी के बारे मे नही सोचा था अब सोच लो अगर मे तुम्हे थोड़ा भी पसंद हूँ लेकिन में तुम्हे पूरी लाइफ बहुत खुश रखूँगा। मेरी उससे ये मुलाकात दो घंटो की हुई थी उस दिन के बाद मेरी और अजय की दो मीटिंग हुई लास्ट मीटिंग के बाद मे हम कार से घर जा रहे थे उसने कार को अचानक सुनसान जगह पर रोका और अजय ने जल्दी से मेरे होंठो पर किस किया और बोले डार्लिंग में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ। आज पहली बार किस मर्द ने मुझे चूमा मैने भी अजय के होंठो पर किस किया और कहा में भी तुमसे बहुत प्यार करती हूँ और हम दोनो पीछे कि सीट मे जाकर बैठ गये अजय ने मुझे अपनी बाँहों मे लिया और हम एक दूसरे को बिना रुके किस पर किस करने लगे थे।

फिर वो कुछ टाइम बाद मुझे घर पर छोड़ गया हमारी सगाई हो गयी थी शादी की तारीख कुछ महीनो के बाद लेकिन मुहूर्त नही निकाला था। हम दोनो रोज़ मिलते थे काफ़ी घंटे तक अब अजय मुझसे काफ़ी मजे लेते थे कभी मेरे बूब्स को दबाते थे मेरे टॉप की ज़िप खोल कर अपना हाथ अंदर घूमते थे मेरे बूब्स को चूमते थे। एक दिन मुझसे अजय बोले में बहुत समय से तुमसे प्यार करता हूँ तो चलो आज सेक्स करते है मैने कहा नो सेक्स शादी के बाद तुम्हे क्या हर्ज है मेरे साथ करने मे में तो तुम्हारा होने वाला पति हूँ आज नही तो कल मेरे साथ ही सेक्स करना है। तभी मैने सोचा अपने होने वाले पति से सेक्स करने मे हर्ज़ क्यों ? मैने कहा अजय शादी के बाद ही करेंगे अजय नाराज़ हो गया और मुझे घर छोड़ कर चला गया। अब घर सोचने के बाद मुझे भी अजय से चुदवाने की इच्छा हो रही थी में राजी हो गई और मैने अजय को फोन किया और उसे सॉरी कहा वो भी मान गया और घर पर आ गया।

तभी मैने कहा लेकिन हम सेक्स कहाँ करेंगे। उसने कहा तुम वो मुझ पर छोड़ दो मेरे जवाब पर वो आज बहुत खुश था और दूसरे दिन अजय मुझे होटल मे लेकर गया वहाँ उसने रूम बुक पहले ही किया हुआ था तो हम दोनों रूम पर गये और वो वहाँ पर पहुँचते ही पागलो की तरह अजय मुझे किस पर किस करने लगे और मेरे कपड़े निकालने लगे अजय मुझे बहुत शरम आती है मेरी जान मेरे मुझसे अब क्या शरमाना हर मर्द अपनी बीवी को नंगा करता है और बीवी अपने मर्द को तुम मेरे कपड़े निकालो अब ये रोज़ होगा अजय ने मेरे सारे कपड़े निकाल दिए मे पूरी नंगी हो गयी वो कहने लगा आओ तुम भी  मेरे कपड़े निकालो और मैने अजय की शर्ट निकाली उसकी छाती बालो से भारी हुई थी। फिर मैने उनकी पेंट निकाली, वो बोला जल्दी करो मेरी अंडरवेर निकालो उसमे तो असली चीज़ है और मैने उनकी अंडरविर निकाल दी उसका तना हुआ लम्बा लंड बाहर आया।

तभी मैने उसे देखकर सोचा इतना लम्बा लंड कैसे जाएगा मेरी चूत मे अब तो अजय भी पूरे नंगे थे। अजय ने मुझे उठा कर बिस्तर पर लिटाया और कहने लगा कितना नाज़ुक मुलायम सेक्सी तेरा बदन है। मे बहुत खुशनसीब हूँ जो तेरे ये सेक्सी बदन का मलिक बना कितना मज़ा आएगा तुझे चोदने मे और अजय मेरे बूब्स को मसलने लगा कितने प्यारे है ये इसे चूसने में बहुत मज़ा आएगा मे शरमा रही थी पहली बार किसी मर्द के सामने नंगी होने से अजय की बॉडी कसी हुई थी और चेस्ट से लेकर पेट तक घने बालो से भरपूर हाथ और पैर और बगल भी बालो से भरा हुआ था अजय ने मुझे अपनी बाँहों मे खींच लिया।
मुझे चूमने लगे मेरे होंठो को चूसने लगे पहली बार किसी मर्द की बाँहों मे जाकर वो भी दोनो नंगे मुझे बहुत अजीब सा लग रहा था लेकिन ये तो दुनिया का सिलसिला है। अजय मेरे गालो को गर्दन को चूमने लगेऔर बाते भी कर रहे थे और अपने हाथो से मेरे बूब्स जोर से मसल रहे थे मुझे इससे थोड़ा दर्द होता था लेकिन मैने वो सह लिया मुझे लेटा कर अजय मेरी बॉडी पर चढ़ गये और मेरे बूब्स पर अटेक किया अपने मुहं मे लेकर दोनो को बाते करते हुए चूसने लगे अपना तना हुआ लंड मेरी चूत के पास रगड़ने लगे मुझे दर्द हो रहा था और मेरे मुहं से चीख निकल गयी अजय तो अपनी मस्ती मे मस्त हो गया। करीब आधे घंटे के बाद वो मेरी बॉडी से नीचे आए मेरी जान मज़ा आ गया तेरे बूब्स चूसने मे शादी के बाद तो रोज़ मुझे इसका मज़ा मिलेगा और अजय ने मुझे अपनी बाँहों मे ले लिया और मुझे किस करने लगे में भी उन्हे किस करने लगी मुझे फिर से लेटा कर अजय वापस मेरी बॉडी पर चढ़े मेरे होंठो को चूसने लगे और अब में भी उनके होंठो को चूसने लगी थी।
अजय बहुत खुश हुआ और बोला मेरी जान तुम मेरा ऐसे ही साथ देती जाओ और वो मेरी चूत पर हाथ फेरने लगा और अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा था।

उसने अपनी एक ऊँगली मेरी चूत में डाली ये देखने के लिये की मुझे कितना दर्द होता है और में दर्द से चीख पड़ी उसने ऊँगली को थोड़ा सा बाहर किया दर्द कम हुआ और वो फिर से धिरे धीरे आगे पीछे करने लगा था। अब ऐसा करने से मुझे बहुत मजा आने लगा और दर्द भी कम हुआ था अब तो लग रहा था की वो जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दे लेकिन वो तो उसी में व्यस्त था। अब मैने कुछ सोचा इससे पहले ही अजय ने मौका देखकर एक ही जोरदार झटके मे अपना तना हुआ लंड मेरी चूत मे डाल दिया। मेरी चूत फट गयी। मुझे बहुत दर्द हो रहा था और मुझे कुछ गीला लगा शायद वो मेरी चूत से निकला हुआ खून था। में डर गई और उठने की कोशिश करने लगी लेकिन अजय ने मुझे ज़ोर से जकड़ रखा था और मेरा मुहं अपने मुहं से सील किया था। मेरी तो अवाज भी बाहर नहीं आ सकती थी। आधा लंड चूत में गया और मेरी हालत बहुत खराब थी में सोचने लगी की अगर पूरा लंड अंदर गया तो क्या हाल होगा।

लेकिन उसने धीरे धीरे लंड को पूरा का पूरा चूत में डाल दिया था मुझे पता भी नहीं चला और वो अपनी मस्ती मे मस्त चुदाई किये जा रहा था। अब अजय मुझे ज़ोर से झटके देकर चोदने लगे उनका लंड मेरी चूत मे घूम रहा था वो मुझे ज़ोर ज़ोर से झटके दे कर चोद रहे थे।
अब तो मेरा पूरा दर्द चला गया मुझे भी मज़ा आने लगा और कहने लगी अजय चोदो जोर से चोदो ये सुन कर वो बहुत जोश में आ गये और तेज़ी से चोदने लगे करीब आधे घंटे तक मुझे चोदने के बाद वो झड़े और मेरी सारी चूत इनके वीर्य से भर गई और मुझे बाँहों मे ले कर बोले कैसा मज़ा आया मैने कहा बहुत अब तो रोज़ हम ऐसे ही मज़ा करेंगे हम एक दूसरे की बाँहों मे कुछ टाइम पड़े रहे कुछ समय बाद अजय मुझसे बोले मेरी जान मेरा लंड मुहं में लो और उसे चूसो।
हम 69 पोज़िशन मे आ गये मैने देर नही की और उनका लंड लोलीपॉप की तरह चूसने लगी और वो मेरी चूत चूस रहे थे और लंड को मेरे मुहं में हिला रहे थे बड़ा मज़ा आ रहा था और कुछ टाइम बाद उसने अपने वीर्य की पिचकारी मेरे मुहं मे छोड़ी और मेरी चूत भी गीली होने लगी वो मेरा सारा पानी चाट गया और मे उनका वीर्य। अजय ने मुझे अपनी बाँहों मे लिया सपना बहुत मज़ा आया मैने कहा मुझे भी अजय बोले अब मे ज़्यादा इंतजार नही कर सकता हूँ।
अब मुझे जल्दी शादी करनी है मैने कहा कैसे वो मुझे देखते रहे और उसके बाद हम घर चले गये रात को अजय का फोन आया डार्लिंग में तुम्हे बहुत मिस कर रहा हूँ। अब तो जल्दी से तुम मेरे बिस्तर पर रोज़ के लिए आ जाओ में तुम्हे लेने आता हूँ। कैसे कल देखना क्या होता है लेकिन तुम्हे साथ देना होगा मैने कहा देखना दूसरे दिन जब पंडित मुहूर्त निकालने आया तो वो कुछ 15 दिनो के बाद का बोले इन दोनो के लिए ये मुहूर्त ठीक है नही तो एक साल बाद। हमारे घर वाले तैयार थे।
हम दोनो को पूछा हमने कुछ नाटक किया फिर बोले जैसी सबकी मर्ज़ी और शादी फिक्स हुई हो। अजय ने पंडित को पटाया था। अजय की छुट्टीयों मे और एक महीना बाकी था हमे चुदाई का मौका नही मिला क्योकि शादी की तैयारी मे लगे हुए थे अजय मुझे चोदने के लिए बहुत बैताब था वो हमेशा कहता अब तो एक एक दिन भारी लगता है और फिर हमारी शादी हो गयी। शादी रात को थी शादी के दूसरे दिन हम हनिमून पर जाने वाले थे।
हम फ्लाईट से हनीमून पर जा रहे थे। अजय तो मुझे चोदने के लिए बहुत बैताब थे। सारी फ्लाइट मे वो मेरे बूब्स को दबाते रहे और हम जैसे ही रूम पहुँचे अजय ने अपने सारे कपड़े निकाल दिए मुझे बिस्तर पर ले गये और भूखे जानवर की तरह मेरे ऊपर टूट पड़े मुझे किस करते हुए मेरे सारे कपड़े निकाल दिए हम दोनो नंगे थे अजय मेरी बॉडी पर चढ़ गये और मेरे होठो को चूसने लगे और अपने हाथ से मेरे बूब्स को मसलने लगे।मे चिल्लाई क्योकि वो जोश में होश खो बैठे थे। लेकिन उसे कोई परवाह नही थी फिर चूसने लगे उन्हे बहुत मज़ा आ रहा था।

अब उन्होंने बूब्स को छोड़ दिया और चूत की तरफ बड़े और चूत को देखने लगे और अपनी जीभ से चूत चाटने लगे और चाट चाट कर मुझे पागल कर दिया अब मुझसे नहीं रहा जा रहा था मैने कहा अजय मेरी चूत भी बाकि है अभी उसे भी तो तुम्हारे लंड का इंतजार है प्लीज लंड डालो और फाड़ दो उसे दोबारा से अब में इंतजार करने लगी कि कब वो चाटना बंद करे और लंड डाले। कुछ देर के बाद उसने लंड को हल्का सा चूत पर रखा और एक जोरदार झटके से एक बार में ही पूरा अपना लंड मेरी चूत मे डाल दिया और मेरे बूब्स के मसलते हुए और होंठो पर किस करते हुए जोर के झटके देते देते चोदने लगे बड़ी तेज़ी से चोदा आज फिर से उसने मेरी चूत को फाड़ दिया लेकिन इस बार खून नहीं आया था।

लेकिन मुझे मजा बहुत आया इस चुदाई से उसने करीब 15 मिनट मुझे चोदा और फिर वो झड़ने लगा था फिर उसने मेरी चूत मे अपना वीर्य डाल दिया था। लंड को चूत से बाहर नहीं निकला और अजय मेरी बॉडी के ऊपर ही था और में उनके नीचे दबी हुई थी वो मुझे अपनी जीभ से चाट रहे थे और कहने लगे मेरी जान तुम ऐसे पड़ी हो तुम्हे मुझसे प्यार ही नही है। मुझे तो लगता है की मैने तुझे रेप किया है। मैने कहा अजय मुझे भी तुम्हारे साथ चुदवाने का मज़ा आया लेकिन तुमने तो मौका ही नही दिया क्या करूं डार्लिंग में तो अपने को काबू मे नही रख सका में अजय को चूमने लगी और उनका लंड अपने हाथ मे लेकर सहलाने लगी अजय नीचे आया और में उनकी सारी बॉडी को चूमने लगी।
फिर अजय का लंड मुहं मे लेकर चूसने लगी मेरी जान मुझे भी तेरी चूत चूसने दे हम 69 पोज़िशन आ गये थे में उनका लंड चूसने लगी और वो मेरी चूत हम दोनो बहुत मजे कर रहे थे कुछ टाइम बाद दोनो ने अपना पानी छोड़ दिया और दोनो एक दूसरे का पानी पीने लग गये अजय ने मुझे अपनी बाँहों मे समा दिया मेरी जान अब रोज़ तुझे ऐसे ही चोदूंगा और उसी रात अजय ने और दो बार मुझे चोदा एक दूसरे को जकड़ कर हम नंगे ही सो गये हमारी चार दिन की छोटी हनिमून मे अजय ने मुझे बहुत चोदा अब हर रोज़ अजय मेरी चुदाई करता है और पूरे जोश से, मुझे बहुत मजा आता है उसकी चुदाई में उसके साथ में।

दोस्तों ये थी मेरी लाइफ की सच्ची कहानी उम्मीद है की आप को ये बहुत पसंद आये।
Share:
Copyright © Indian Bhabhi Hindi Incest Savita Vellamma Naughty Sex Stories | Powered by Blogger Design by ronangelo | Blogger Theme by NewBloggerThemes.com